i. प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जांद्र ग्रीगोरीविच लुकासेंको से मुलाकात की और दोनों देशों के आपसी हित के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. वार्ता के बाद विभिन्न क्षेत्रो में विभिन्न समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए.

ii. श्री लुकासको की यात्रा बेलारूस और भारत राजनयिक संबंधों की स्थापना की 25 वीं वर्षगांठ के कारण महत्वपूर्ण थी..

iii. निम्नलिखित समझौतों / एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए थे:
 
1. भारत गणराज्य के युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय और बेलारूस गणराज्य के शिक्षा मंत्रालय के बीच समझौता ज्ञापन
2. व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण के क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत सरकार के कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय और बेलारूस गणराज्य के शिक्षा मंत्रालय के बीच समझौता ज्ञापन
3. भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी (आईएनएसए) और बेलारूस के नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज के बीच वैज्ञानिक और तकनीकी सहयोग पर समझौता
4. भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, भारत और बेलारूस राज्य कृषि अकादमी, गोरकी, बेलारूस के बीच कृषि अनुसंधान और शिक्षा में सहयोग के बीच समझौता ज्ञापन
5. भारत गणराज्य के कृषि और किसान के कल्याण मंत्रालय और बेलारूस गणराज्य के कृषि मंत्रालय और खाद्य मंत्रालय के बीच समझौते में संशोधन प्रोटोकॉल 16 अप्रैल, 2007 को हस्ताक्षरित किया गया
6. 2018-2020 के लिए संस्कृति के क्षेत्र में भारत गणराज्य और बेलारूस गणराज्य सरकार के बीच सहयोग  कार्यक्रम
7. भारत गणराज्य के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और तेल और बेलारूस के स्टेट कंसर्न ऑफ़ आयल एंड केमिस्ट्री इन द आयल एंड गैस सेक्टर के बीच समझौता ज्ञापन
8. जेएसवी “बेल्ज़ार्यूबज़स्टोरय” और नेशनल बिल्डिंग्स कंस्ट्रक्शन कॉर्पोरेशन लिमिटेड के बीच समझौता ज्ञापन
9. जेएससी बेलारूसी पोटाश कंपनी (बीपीसी) और इंडियन पोटाश लिमिटेड (आईपीएल) के बीच समझौता ज्ञापन
10.  OJSC मिन्स्क ट्रैक्टर वर्क्स और किर्लोस्कर ऑयल इंजन लिमिटेड पुणे, भारत के बीच समझौता ज्ञापन.

No Comment

You can post first response comment.

Leave A Comment

Please enter your name. Please enter an valid email address. Please enter a message.